Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.
अडालज बावली, अहमदाबाद
अडालज बावली, अहमदाबाद
आमेर किला, जयपुर
आमेर किला, जयपुर
कच्छ कढ़ाई (गुजरात)
कच्छ कढ़ाई (गुजरात)
कच्छ मिट्टी का काम, गुजरात की पारंप रिक कला का काम
कच्छ मिट्टी का काम, गुजरात की पारंप रिक कला का काम
कठपुतली, राजस्थान की एक लोक परंपरा
कठपुतली, राजस्थान की एक लोक परंपरा
करशा मठ, लद्दाख
करशा मठ, लद्दाख
कांथा कढ़ाई, बंगाल
कांथा कढ़ाई, बंगाल
कालबेलिया, राजस्थान का पारंपरिक लोक नृत्य
कालबेलिया, राजस्थान का पारंपरिक लोक नृत्य
भरतनाट्यम, भारत का एक शास्त्रीय नृत्य
कूचिपूड़ी, भारत का एक शास्त्रीय नृत्य
केरल का एक नृत्य रूप, कथकली
केरल का एक नृत्य रूप, कथकली
छम, मास्क डांस, लद्दाख
छम, मास्क डांस, लद्दाख
डमरू, एक छोटा दो सिर वाला ढोल
डमरू, एक छोटा दो सिर वाला ढोल
दत्तपारा नवरत्न मंदिर, जॉयपुर, पश्चिम बंगाल
दत्तपारा नवरत्न मंदिर, जॉयपुर, पश्चिम बंगाल
निर्माण के दौरान सचिवालय भवनों का दृश्य, नई दिल्ली
निर्माण के दौरान सचिवालय भवनों का दृश्य, नई दिल्ली
नीलगिरि पर्वत रेलवे
नीलगिरि पर्वत रेलवे
नुब्रा घाटी, लेह में मैत्रेय बुद्ध की प्रतिमा
नुब्रा घाटी, लेह में मैत्रेय बुद्ध की प्रतिमा
पंचरथ, महाबलीपुरम
पंचरथ, महाबलीपुरम
पटचित्र, ओडिशा की एक पारंपरिक चित्रकला
पटचित्र, ओडिशा की एक पारंपरिक चित्रकला
पुंग ढोल चोलम, मणिपुर
पुंग ढोल चोलम, मणिपुर
फूलों की रंगोली
फूलों की रंगोली
बीन, एक वाद्य यंत्र बजाते हुए संगीतकार
बीन, एक वाद्य यंत्र बजाते हुए संगीतकार
बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस, गोवा
बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस, गोवा
बौद्ध पंथियों का तांत्रिक मंडल
बौद्ध पंथियों का तांत्रिक मंडल
भांगड़ा, पंजाब का एक लोक नृत्य
भांगड़ा, पंजाब का एक लोक नृत्य
भारत की प्राचीन पांडुलिपि
भारत की प्राचीन पांडुलिपि
मार्कंडेय पुराण पांडुलिपि
मार्कंडेय पुराण पांडुलिपि
मिथिला चित्रकला, बिहार
मिथिला चित्रकला, बिहार
रंगों का त्योहार होली
रंगों का त्योहार होली
रथ का पहिया, सूर्य मंदिर, कोणार्क
रथ का पहिया, सूर्य मंदिर, कोणार्क
राष्ट्रीय अभिलेखागार पुस्तकालय
राष्ट्रीय अभिलेखागार पुस्तकालय
रुद्र वीणा, एक शास्त्रीय तार वाद्य
रुद्र वीणा, एक शास्त्रीय तार वाद्य
वाराणसी में गंगा आरती
वाराणसी में गंगा आरती
विरुपाक्ष मंदिर, हम्पी
विरुपाक्ष मंदिर, हम्पी
शाक्यमुनि बुद्ध की मूर्तिकला
शाक्यमुनि बुद्ध की मूर्तिकला

स्वतंत्रता आंदोलन का संग्रह

freedom

 

क्या आप जानते हैं ?

22 अक्टूबर अशफ़ाक़उल्ला खान (1900 – 1927)

22 अक्टूबर 1900 को शाहजहाँपुर, उत्तर प्रदेश, में जन्में, अशफ़ाक़उल्ला खान, एक क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी थे, जिनके द्वारा भारत के स्वतंत्रता संग्राम में निभाई गई भूमिका आज भी याद की जाती है।

खान अभी स्कूल में ही पढ़ रहे थे जब गांधीजी ने असहयोग आंदोलन शुरू कर दिया। 1922 में चौरी चौरा कांड के बाद जब यह आंदोलन रोक दिया गया तब खान बहुत हतोत्साहित हुए। इसके बाद उन्होंने राम प्रसाद बिस्मिल के साथ मिलकर हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन (एचएसआरए) की स्थापना की। एचएसआरए के अंतर्गत उनके अंग्रेज़-विरोधी कार्य तब चरम पर पहुँच गए जब 9 अगस्त 1925 को उन्होंने प्रसिद्ध काकोरी रेल कांड को अंजाम दिया, जिसमें खान और अन्य क्रांतिकारियों ने उस रेलगाड़ी को लूट लिया जिसमें अंग्रेज़ी शासन द्वारा भारतीय पैसा ले जाया जा रहा था।

इस कार्य के लिए खान को सजा सुनाई गई और 19 दिसंबर 1927 को उन्हें फाँसी पर लटका दिया गया। जेल में लिखी गई, अपनी बहुत ही संक्षिप्त आत्मकथा में अशफ़ाक़उल्ला ने अपनी स्वतंत्रता की अवधारणा पर विचार व्यक्त किए, जिसमें न केवल विदेशी शासन से राजनितिक स्वतंत्रता बल्कि सभी के लिए सामाजिक और आर्थिक स्वतंत्रता भी सम्मिलित थी। 

Img

कहानियाँ

The Padmanabhaswamy Temple and the Royal Family of Travancore
भगवान पद्मनाभ और उनके दास

यह कहानी पद्मनाभस्वामी मंदिर और उससे जुड़े त्रावणकोर के शाही परिवार के इतिहास का वर्णन करती है।

The Jagannath Temple Puri
जगन्नाथ मंदिर, पुरी

पुरी में जगन्नाथ मंदिर हिंदू परंपरा के 'चार धामों' में से एक है। यह भगवान जगन्नाथ, देवी सुभद्रा और भगवान बलभद्र का घर है।

Delhi Durbars
दिल्ली दरबार

दिल्ली दरबार भारत के वाइसराय द्वारा सम्राटों या महारानियों के राज्याभिषेक के लिए आयोजित भव्य कार्यक्रम थे। इसलिए, इन्हें कोरोनेशन दरबार के रूप में भी जाना जाता था।

Simla
शिमला: ब्रिटिश भारत की ग्रीष्मकालीन राजधानी

अपने देश से बहुत दूर, अंग्रेजों ने हिमालय की तलहटी में एक ‘छोटे इंग्लैंड’ का निर्माण किया। सिमला को अस्पष्टता से उभार कर, इंग्लैंड की सबसे बड़ी कॉलोनियों में से एक, भारत की ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया गया ।

The Life of Sanchi Monument: The Story of its Rediscovery and Return
साँची स्मारक: पुनर्खोज और वापसी

यह कहानी १९वीं शताब्दी की शुरुआत में ब्रिटिश औपनिवेशिक अधिकारियों द्वारा अपनी खोज के समय से साँची स्मारकों के इतिहास का वर्णन करती है।

‘THE STAIN OF INDIGO’ AND GANDHI’S SATYAGRAHA IN CHAMPARAN
चंपारण में गाँधीजी का सत्याग्रह

यह कहानी चंपारण में नील की खेती की अत्याचारी तिनकठिया प्रणाली और किसानों की मदद करने के लिए गाँधीजी के सत्याग्रह का वर्णन करती है।

INDIGO CULTIVATION AND REVOLT IN BENGAL
बंगाल में नील विद्रोह

यह कहानी बंगाल में नील की खेती की व्यवस्था, भारतीय किसानों के शोषण और दमनकारी यूरोपीय प्लांटरो के खिलाफ उनके विद्रोह से संबंधित है।

 Begum Hazrat Mahal: The Revolutionary Queen of Awadh
बेगम हज़रत महल: अवध की क्रांतिकारी रानी

बेगम हज़रत महल उन कुछ महिलाओं में से एक थीं, जिन्होंने १८५७ के विद्रोह के दौरान अंग्रेज़ों को चुनौती दी थी।

Delhi: Imperial Capital of British India
दिल्ली: ब्रिटिश भारत की राजधानी

दिल्ली की नींव किंग जॉर्ज V द्वारा ब्रिटिश भारत की राजधानी के रूप में १९११ के राज्याभिषेक दरबार में रखी गई थी।

Jallianwala Bagh Massacre
जलियांवाला बाग़ नरसंहार

जलियांवाला बाग़ नरसंहार १३ अप्रैल, १९१९ को हुआ था। इस दिन अमृतसर में एक वरिष्ठ ब्रिटिश सैन्य अधिकारी, जनरल डायर के आदेश पर सैकड़ों निहत्थे भारतीयों की हत्या की गई थी।

कोह-ए-नूर
कोह-ए-नूर

कोह-ई-नूर दुनिया में सबसे अधिक प्रसिद्ध रत्नों में से एक है। इसे 1839 में हस्ताक्षरित लाहौर की अंतिम संधि की शर्तों के तहत भारत से लिया गया था। अंग्रेजों द्वारा आकार और कटौती के बाद, अब इसका वजन 105.6 कैरेट है।

Bahadur Shah Zafar
बहादुर शाह ज़फ़र

मुगल साम्राज्य के अंतिम सम्राट और भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम का प्रमुख चेहरा।

Karva Chauth
करवा चौथ

करवा चौथ विवाहित हिंदू महिलाओं द्वारा प्रतिवर्ष मनाया जाने वाला एक त्योहार है जिसमें वे सूर्योदय से लेकर चंद्रोदय तक का व्रत रखती हैं और अपने पतियों की सलामती की प्रार्थना करती हैं।

Jagannath - Rath Yatra
पुरी रथ यात्रा

रथ यात्रा (चैरियट फेस्टिवल), पुरी में जगन्नाथ मंदिर में मनाए जाने वाले भव्य त्योहारों में से एक है। इसमें भगवान जगन्नाथ की, अपने भाई-बहन बालभद्र और सुभद्रा, के साथ उनकी मौसी के घर, गुंडीचा, जाने की वार्षिक यात्रा का उत्सव मनाया जाता है।

दारा शिकोह
दारा शिकोह

When prince Dara Shikoh was just seven years old, his father, Prince Khurram rebelled against the then Emperor Jahangir to stake a claim on the empire above his two elder brothers.

बाली यात्रा
बाली यात्रा

ओडिशा के समृद्ध समुद्री इतिहास को याद करने वाला त्योहार बाली यात्रा पूरे राज्य में मनाया जाता है। ऐतिहासिक शहर कटक में, कार्तिक पूर्णिमा के दिन (कार्तिक के महीने में पूर्णिमा का दिन यानी अक्टूबर-नवंबर) से एक सप्ताह तक चलने वाला कार्यक्रम आयोजित किया जाता है।

आत्मीय शिवसागर
आत्मीय शिवसागर

पूर्वी असम में सिवसागर एक ऐतिहासिक और सांस्कृतिक रूप से महत्वपूर्ण शहर है, जो प्रकृति की सुंदरता को भी प्रदर्शित करता है। यह अहोम राजाओं की राजधानी थी और यहाँ उस काल की महत्वपूर्ण इमारतें हैं।

bithoor
बिठूर उत्तर प्रदेश

A small town on the banks of River Ganga, near Kanpur, Uttar Pradesh, Bithoor is a place of great religious and historical importance.

भोपाल की बेगमें: 107 वर्षों का स्वर्णिम शासनकाल
भोपाल की बेगमें: 107 वर्षों का स्वर्णिम शासनकाल

उन चार रानियों के दिलकश इतिहास में कदम रखिए जिन्होंने एक के बाद एक राज्य किया था। भोपाल की बेगमें सुयोग्य शासक मानी जाती थीं क्योंकि उन्होंने भोपाल शहर को पुनः परिभाषित किया और अंग्रेज़ों के साथ सम्मानजनक संबंध बनाए रखे।

संत कबीर दास जी का जीवन
संत कबीर दास जी का जीवन

It was sometime in mid 15th century that the poet-saint Kabir Das was born in Kashi (Varanasi, Uttar Pradesh). The details about the life of Kabir are shrouded in uncertainty.

The Granite Marvel; Brihadeswara Temple
दक्षिण मेरु: बृहदेश्वर मंदिर

भारत की विविध संस्कृति, इतिहास और असाधारण वास्तुकला सदियों से संरक्षित मंदिर की दीवारों पर दिखती है।

सादिर अट्टम से भरतनाट्यम तक
सादिर अट्टम से भरतनाट्यम तक

भारत अपनी प्रदर्शन कला, हस्तशिल्प, चित्रकला, मूर्तिकला और वास्तुकला के माध्यम से प्रदर्शित समृद्ध, विविध संस्कृति के लिए जाना जाता है।

Bombay – The Joining of the Seven Islands (1668-1838)
बॉम्बे - सात द्वीपसमूह का संयोग (1668-1838)

On 1 September 1668, the ship named 'Constantinople Merchant' touched the coast of Surat.

Temples Of Khajuraho
खजुराहो मंदिर

India is known to have more than 2 million Hindu temples. These temples reflect the variety of Indian culture and way of life.

संस्कृति मंत्रालय की संस्थाएँ